latest

सैमसंग R&D बैंगलोर ने ‘एंबेडेड इंटेलिजेंस’ के कोर्स के लिए KLE टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी के साथ की पार्टनरशिप

सैमसंग आर एंड डी इंस्टीट्यूट- बैंगलोर (एसआरआई-बी) ने कर्नाटक के हुबली में केएलई टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर एंबेडेड इंटेलिजेंस पर एक कोर्स तैयार किया है, जो छात्रों को थ्योरी और प्रैक्टिकल ऐप्लिकेशन्स के माध्यम से इस डोमेन में अलग-अलग कंसेप्ट्स सीखने का मौका देगा।
 

सैमसंग के साथ इस गठबंधन में आकर, केएलई यूनिवर्सिटी यह कोर्स ऑफर करने वाली पहली यूनिवर्सिटी बन गई है। इस कोर्स को कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग के छठे सिमिस्टर के छात्रों के लिए एक ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में पेश किया गया है। इस कोर्स के माध्यम से छात्रों को एम्बेडेड सिस्टम, हेटरोजिनस कंप्यूटिंग, मशीन लर्निंग फ्रेमवर्क्स और एंड्रॉइड एनटॉमी की मूल बातों का ज्ञान मिलेगा।
 
कोर्स को पूरा करने की तैयारी के तहत, यूनिवर्सिटी के चुनिंदा फैकल्टी के सदस्यों ने बेंगलुरु में कंपनी के परिसर में SRI-B इंजीनियरों से एंबेडेड इंटेलिजेंस में ट्रेनिंग ली, और उन्होंने सैमसंग के कुछ पहले से चल रहे प्रोजेक्ट्स में पांचवें सेमेस्टर के छात्रों के साथ काम किया, ताकि उन्हें एंबेडेड इंटेलिजेंस पर हैंड्स-ऑन एक्सपीरियंस मिल सके।
 
एसआरआई-बी के वाइस प्रेसिडेंट, बालाजी होलर ने कहा, ‘आज की तेज़ी से विकसित होती तकनीक के युग में, एडवांस्ड टेक्निकल शिक्षा का होना ज़रूरी है, जो छात्रों को कल के इनोवेटर्स बनने के लिए सही मायने में मदद कर सकें। हमें KLE टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी के साथ जुड़ने और इस कोर्स को तैयार करने और उनके छात्रों को अत्याधुनिक कंसेप्ट्स के बारे में पढ़ाने की बेहद खुशी है’।
 

इस पार्टनरशिप के हिस्से के रूप में, SRI-B ने कोडिंग की समस्याओं को हल करने के लिए उन्हें सलाह देकर, छात्रों के प्रोग्रामिंग स्किल्स को बेहतर बनाने में यूनिवर्सिटी की सहायता की। छात्रों को SRI-B इंजीनियरों द्वारा डाटा स्ट्रक्चर्स और समस्या को सुलझाने के तरीकों जैसी चीज़ों पर भी प्रशिक्षित किया गया था।
 
केएलई टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर, अशोक सेटर ने कहा, ‘सैमसंग-केएलई टेक के बीच हुई पार्टनरशिप की सफलता, लोगों के जुनून और छात्रों के सीखने और संस्थागत अनुसंधान क्षमता पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालने के लिए दोनों संगठनों के मज़बूत इरादे से प्रेरित है।’
 
आरएंडडी सेंटर ने इससे पहले उत्तर कर्नाटक के हुबली-धारवाड़ क्षेत्र में और आसपास के कॉलेजों के लिए सितंबर 2018 में केएलई कोडेथॉन का आयोजन किया था, ताकि छात्रों को प्रोग्रामिंग में अपनी योग्यता प्रदर्शित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। हैकाथॉन के विजेताओं को SRI-B में छह महीने की इंटर्नशिप का मौका दिया गया था।